Ankhiyon Ke Jharokhon Se Lyrics from same name movie Ankhiyon Ke Jharokhon Se (1978), Ankhiyon Ke Jharokhon Se Lyrics writer is Ravindra Jain and singer Hemlata.

Song: Ankhiyon Ke Jharokhon Se
Movie/Album: Ankhiyon Ke Jharokhon Se (1978)
Singer: Hemlata
Lyrics By: Ravindra Jain
Music By: Ravindra Jain

Read Also Mohammed Rafi Song “Bar Bar Din Ye Aaye Lyrics

This song is Available On
Gaana

Ankhiyon Ke Jharokhon Se Lyrics

अँखियों के झरोखों से, मैंने देखा जो सांवरे
अँखियों के झरोखों से, मैंने देखा जो सांवरे
तुम दूर नज़र आए, तुम बड़ी दूर नज़र आए

बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
मन में तुम्हीं मुस्काए, मन में तुम्हीं मुस्काए
अँखियों के झरोखों से…

अन्‍तरा 1

इक मन था मेरे पास वो, अब खोने लगा है
पाकर तुझे, हाय मुझे, कुछ होने लगा है

इक मन था मेरे पास वो, अब खोने लगा है
पाकर तुझे, हाय मुझे, कुछ होने लगा है

इक तेरे भरोसे पे, सब बैठी हूँ भूल के
इक तेरे भरोसे पे, सब बैठी हूँ भूल के
यूँ ही उम्र गुज़र जाए, तेरे साथ गुज़र जाए
अँखियों के झरोखों से…

अन्‍तरा 2

जीती हूँ तुम्हें देख के, मरती हूँ तुम्हीं पे
तुम हो जहाँ, साजन, मेरी दुनिया है वहीं पे

जीती हूँ तुम्हें देख के, मरती हूँ तुम्हीं पे
तुम हो जहाँ, साजन, मेरी दुनिया है वहीं पे

दिन रात दुआ माँगे, मेरा मन तेरे वास्ते
दिन रात दुआ माँगे, मेरा मन तेरे वास्ते
कहीं अपनी उम्मीदों का, कोई फूल न मुरझाए
अँखियों के झरोखों से…

अन्‍तरा 3

मैं जब से तेरे प्यार के, रंगों में रंगी हूँ
जगते हुए, सोई रही, नींदों में जगी हूँ

मैं जब से तेरे प्यार के, रंगों में रंगी हूँ
जगते हुए, सोई रही, नींदों में जगी हूँ

मेरे प्यार भरे सपने, कहीं कोई न छीन ले
मेरे प्यार भरे सपने, कहीं कोई न छीन ले
मन सोच के घबराए, यही सोच के घबराए

अँखियों के झरोखों से, मैंने देखा जो सांवरे
तुम दूर नज़र आए, तुम बड़ी दूर नज़र आए

बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
मन में तुम्हीं मुस्काए, मन में तुम्हीं मुस्काए

Ankhiyon Ke Jharokhon Se Lyrics End…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *