Raabta Lyrics – Arijit Singh, Agent Vinod
raabta lyrics ajent vinod

Raabta Lyrics – Arijit Singh, Agent Vinod

image_pdfimage_print

Raabta song from Agent Vinod movie, Raabta lyrics writer is Amitabh Bhattacharya, song sung by Arijit Singh and Music by Pritam. Starring od song Kareena Kapoor and Saif Ali Khan.

Song: Raabta
Album: Agent Vinod
Singer: Arijit Singh
Lyricist: Amitabh Bhattacharya
Music: Pritam
Language: Hindi
Music Label: T-series

Raabta Lyrics

Kehte Hain Khuda Ne Iss
Jahan Mein Sabhi Ke Liye
Kisi Na Kisi Ko Hai
Banaya Har Kisi Ke Liye
Tera Milna Hai Uss
Rab Ka Ishaara Maanu
Mujhko Banaya Tere Jaise
Hi Kisi Ke Liye

Kehte Hain Khuda Ne Iss
Jahan Mein Sabhi Ke Liye
Kisi Na Kisi Ko Hai
Banaya Har Kisi Ke Liye
Tera Milna Hai Uss
Rab Ka Ishaara Maanu
Mujhko Banaya Tere Jaise
Hi Kisi Ke Liye

Kuch Toh Hai Tujhse Raabta
Kuch Toh Hai Tujhse Raabta
Kaise Hum Jaane Hume Kya Pata
Kuch Toh Hai Tujhse Raabta

Tu Humsafar Hai,
Phir Kya Fikar Hai
Jeene Ki Wajah Yahi Hai
Marna Issi Ke Liye

Kehte Hain Khuda Ne Iss
Jahan Mein Sabhi Ke Liye
Kisi Na Kisi Ko Hai
Banaya Har Kisi Ke Liye

Sa Ni Pa Di Na Sa…

Meharbaani Jaate Jaate Mujh Pe Kar Gaya
Guzarta Sa Lamha Ek Daaman Bhar Gaya
Tere Nazara Mila, Roshan Sitaara Mila
Takdeer Ki Kashtiyon Ko, Kinara Mila

Sadiyon Se Tarse Hai
Jaisi Zindagi Ke Liye
Teri Sohbat Mein
Duaayein Hain Ussi Ke Liye

Tera Milna Hai Uss Rab Ka Ishaara Maanu
Mujhko Banaya Tere Hi Jaise Kisi Ke Liye

Kehte Hain Khuda Ne Iss
Jahan Mein Sabhi Ke Liye
Kisi Na Kisi Ko Hai
Banaya Har Kisi Ke Liye

Tere Milna Hai Uss
Rab Ka Ishaara Maanu
Mujhko Banaya Tere
Hi Jaise Kisi Ke Liye

Kuch Toh Hai Tujhse Raabta
Kuch Toh Hai Tujhse Raabta
Kaise Hum Jaane Hume Kya Pata
Kuch Toh Hai Tujhse Raabta

Tu Humsafar Hai,
Phir Kya Fikar Hai
Jeene Ki Wajah Hi Yahi Hai
Marna Issi Ke Liye

Kehte Hain Khuda Ne Iss
Jahan Mein Sabhi Ke Liye
Kisi Na Kisi Ko Hai
Banaya Har Kisi Ke Liye

Raabta Lyrics

Raabta Lyrical Video!

Raabta Lyrics Hindi

कहते हैं ख़ुदा ने इस जहाँ में
सभी के लिए किसी ना किसी को है बनाया
हर किसी के लिए
तेरा मिलना है उस रब का इशारा
मानो मुझको बनाया तेरे जैसे ही किसी के लिए

कुछ तो है तुझ से राबता
कुछ तो है तुझ से राबता
कैसे हम जाने, हमें क्या पता
कुछ तो है तुझ से राबता

तू हमसफ़र है, फिर क्या फिकर है
जीने की वजह यही है
मरना इसी के लिए

कहते हैं खुदा ने इस जहाँ में
सभी के लिए किसी ना किसी को है बनाया
हर किसी के लिए

हम्म्म मेहरबानी जाते-जाते मुझपे कर गया
गुज़रता सा लम्हा एक दामन भर गया
तेरा नज़ारा मिला, रौशन सितारा मिला
तक़दीर की कश्तियों को किनारा मिला

सदियों से तरसे हैं जैसी ज़िन्दगी के लिए
तेरी सोहबत में दुआएं हैं उसी के लिए
तेरा मिलना है उस रब का इशारा
मानो मुझको बनाया तेरे जैसे ही किसी के लिए

कुछ तो है तुझ से राबता
कुछ तो है तुझ से राबता
कैसे हम जाने हमें क्या पता
कुछ तो है तुझ से राबता

तू हमसफ़र है, फिर क्या फिकर है
जीने की वजह ही यही है
मरना इसी के लिए

कहते हैं ख़ुदा ने इस जहाँ में
सभी के लिए किसी ना किसी को है बनाया
हर किसी के लिए

Raabta Lyrics

Next PostRead more articles

Leave a Reply