Rafta Rafta Lyrics writer is Taslim Fazal, this ghazal sung by Mehdi Hassan. Mehdi Hassan was a Pakistani ghazal singer and playback singer for Lollywood.

rafta rafta lyrics

Song: Rafta Rafta Woh Meri
Singer: Mehdi Hassan
Lyricist: Taslim Fazal
Genres: Ghazal

Read Also Ghulam Ali Sahab Ghazal “Hungama Hai Kyon Barpa Lyrics

This song is Available On
Gaana, Spotify, Hungama

Rafta Rafta Lyrics

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये
रफ्ता रफ्ता वो मेरे हस्ती का सामां हो गये

पहले जां, फिर जानेजां,
पहले जां, फिर जानेजां,
फिर जानेजाना हो गये

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

पहले जां, फिर जानेजां,
फिर जाने जाना हो गये

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

Verse 1

दिन-ब-दिन बढती गईं,
दिन-ब-दिन बढती गईं
उस हुस्न की रानाइयां

दिन-ब-दिन बढती गईं
उस हुस्न की रानाइयां
पहले गुल, फिर गुल-बदन,
पहले गुल, फिर गुल-बदन,

पहले गुल, फिर गुल-बदन,
फिर गुल-बदामां हो गए
रफ्ता रफ्ता वो मेरे…

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

पहले जां, फिर जानेजां,
फिर जानेजाना हो गये

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

[Verse 2]

आप तो नज़दीक से नज़दीक-तर आते गए
आप तो नज़दीक से,
आप तो नज़दीक से नज़दीक-तर आते गए
आप तो नज़दीक से नज़दीक-तर आते गए x2

पहले दिल, फिर दिलरुबा,
पहले दिल, फिर दिलरुबा,
फिर दिल के मेहमां हो गए

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

पहले जां, फिर जानेजां,
फिर जानेजाना हो गये

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

[Verse 3]

प्यार जब हद से बढ़ा, सारे तकल्लुफ मिट गए
प्यार जब हद से बढ़ा,
प्यार जब हद से बढ़ा सारे तकल्लुफ मिट गए
प्यार जब हद से बढ़ा सारे तकल्लुफ मिट गए

आप से फिर, तुम हुए,
आप से फिर, तुम हुए,
फिर तू का उनवाँ हो गए

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये

पहले जां, फिर जानेजां,
फिर जानेजाना हो गये

रफ्ता रफ्ता वो मेरे,
हस्ती का सामां हो गये…

Rafta Rafta Lyrics End…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *